इसीलिए तो वह पाकिस्तान है

//इसीलिए तो वह पाकिस्तान है

इसीलिए तो वह पाकिस्तान है

written on 27 April 2018

पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदुओं की पूजा अर्चना में मुस्लिम कट्टरपंथियों द्वारा अवरोध पहुंचाए जाने की तमाम खबरें आती रहती है, इसीलिए तो वह पाकिस्तान है I अब धार्मिक सहिष्णुता, अनेकता में एकता के कारण महान कहलाने वाले हमारे देश के गुड़गांव, क्षमा करेंगे गुरुग्राम में स्वघोषित भारत मां के सपूत, हिन्दू धर्म के रक्षकों ने मुसलमानों को नमाज पढ़ने से रोकने की शुरुआत की है I इन दिग्भ्रमित नौजवानों के लिए यह करना उचित ही है क्योंकि अब रोटी, कपड़ा, रोजगार, मकान से बड़ा प्रश्न हिन्दू-मुसलमान का है, बहुसंख्यकवाद का है, और यह बात राजनेताओं द्वारा सार्वजनिक मंच से डंके की चोट पर कही जा रही है I

सैकड़ों वर्षो के तथाकथित मुस्लिम दमन से दुःखी हिन्दू धर्म के स्वघोषित तमाम ठेकेदारों को मेरी हार्दिक बधाई, जिस एकछत्र हिन्दू शासन के इंतजार में आप न जाने कब से प्रतीक्षारत थे उसे तथाकथित रूप से प्राप्त करते ही आपने आजादी के सत्तर साल बाद ही सही पाकिस्तान की दिशा में बढ़ने की शुरुआत तो कर ही दी है I मुझे पूरा विश्वास है आपलोग जितने मनोयोग से इस कार्य में लगे हैं अगले सत्तर साल में या उससे पहले ही इस देश को हिन्दू पाकिस्तान अर्थात ‘हिन्दू स्थान’ बनाकर ही चैन की सांस लेंगे I आज की पीढ़ी तो इस देश के वर्तमान निष्कर्ष से दुखी है ही, दुनिया में भी हम विश्वगुरु का दर्जा प्राप्त नहीं कर पाये हैं, इस निष्कर्ष को आपलोग निश्चित रूप से बदल देंगे और आने वाली पीढ़ी को धर्मनिरपेक्ष हिंदुस्तान के बदले हिन्दू पाकिस्तान दे कर विश्वगुरु होने का गौरव भी देंगे I

साम्प्रदायिक हिंसा करने वाले के समर्थन में रैली, चंदा, सामुहिक बलात्कारियों, हत्यारों के समर्थन में रैली, जुलूस एवं अपराध के स्पष्ट प्रमाण के बावजूद साम्प्रदायिक विद्वेष पैदा करने के लिये मीडिया का प्रोपेगंडा व सत्ताधारी दल के प्रवक्ता द्वारा मामले को सन्देहास्पद बताना, और अब अल्पसंख्यकों को उनके धार्मिक क्रियाकलापों से रोकना I
सच में जो आज हो रहा है यदि यही 1947 में प्रारम्भ हो गया रहता, तब आज जैसी ही शासन व्यवस्था व सामाजिक व्यवहार होता तो एक पल के लिए कल्पना करिये हम और हमारे देश का क्या हश्र होता, यह तालिबा

By |2019-01-10T11:55:54+00:00January 10th, 2019|Messages|0 Comments

About the Author:

Leave A Comment